Sahara India Money Refund Status : अब ऐसे होगा सहारा भुगतान क्लेम का सत्यापन, सरकार ने बताया तरीका

 
सहारा इंडिया के चार बड़ी सहकारी समीयियो के निवेशकों को उनका पैसा बापस दिलाने के लिए Sahara Refund Portal की शुरुवात हुई थी जिसमे मुख्य रूप से अमित शाह ने यह घोषणा की थी की आवेदन करने के 45 दिन तक सत्यापन कर दिया जायेगा जिसके बाद राशि जारी की जाएगी परंतु अभी तक 45 दिन का आंकड़ा भी समाप्त हो चूका है परंतु आज तक निवेशकों को 1 रुपया तक बापस नहीं मिला है। जानकाररी के अनुसार सहारा इंडिया परिवार के इस घोटाले में अमित शाह, मिनिस्ट्री ऑफ़ कोऑपरेशन, और पूरी गोदी मीडिया इन घोटालेबाजो के साथ दिखाई पड़ रही है।  

Read More : Top 5 Mba Colleges in India, Read Latest Report By the business life in

खबर है की पोर्टल पर कल एक बड़ी समस्या देखने के लिए मिली है जहा पर जिन लोगो ने अपने दावों को सहारा रिफंड पोर्टल पर अपलोड किया था वह अब रिजेक्ट दिखा रहे है जिसका मैसेज लोगो के पास आ रहा है वही लगातार सहारा इंडिया के निवेशक इस परेशानी के चलते डिप्रेशन का शिकार हो रहे है वही सीआरसी और सहारा के टोल फ्री नंबर पर जब भी निवेशक शिकायत करने के लिए फ़ोन लगता है तो फोन भी कनेक्ट नहीं हो पाता है।   

सहारा रिफंड पोर्टल क्या होने वाला है बंद 

तमाम सूत्रों के हवाले से यह खबर आ रही है कि सहारा इंडिया रिफंड पोर्टल पर होने वाले आवेदन जल्द बंद हो सकती है परंतु इस चीज को लेकर अभी तक सेंट्रल रजिस्ट्रार ऑफ कोऑपरेटिव सोसाइटी (Crcs) और सहारा इंडिया परिवार की ओर से कोई भी ताजा अपडेट नहीं दिया गया है। हालांकि, कुछ सोशल मीडिया साइट्स इस चीज को दिखा रही है कि सहारा इंडिया का रिफंड पोर्टल जल्द बंद होने वाला है, परंतु अभी ऐसा नहीं है जब भी ऑफिशियल डेट अनाउंस होगी तो आप सभी को न्यूज़ दुनिया प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से वह तारीख बता दी जाएगी। 

अभी तक नहीं मिले रुपए 10000 : sahara india news

माननीय सहकारिता मंत्री अमित शाह ने सहारा निवेशकों से यह वादा किया था कि 45 दिन के बाद जब निवेशक अपना क्लेम सहारा रिफंड पोर्टल पर सबमिट कर देगा उसके बाद सहारा की सोसाइटी और सीआरसी उसके दावा का सत्यापन को पूर्ण करेगी, जिसकी जांच कड़े स्तर पर की जाएगी परंतु ना अभी तक जांच पूरी हो पाई है और ना ही किसी निवेशक को अभी तक पैसा वापस मिल सका है। ऐसे में निवेशकों का कहना है कि बीजेपी उनके साथ खिलवाड़ कर रही है। आपको बता दें कि सुब्रत रॉय सहारा पर पूरे भारत में हजारों एफआईआर दर्ज है परंतु मोदी सरकार उन FIR  पर कार्रवाई करने की वजह सुब्रत रॉय सहारा को एक वर्ल्ड क्लास हीरो बनाने में लगी हुई है। ऐसी स्थिति देखते हुए दिखाई दे रहा है कि भारत की न्यायपालिका गोदी मीडिया के मायाजाल में कहीं ना कहीं फस चुकी है और देश की अर्थव्यवस्थाऔर न्यायपालिका भी मोदी सरकार के कारण गड़बड़ाने लगी है। 



Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *