pacl money refund status 2022 : पीएसीएल निवेशकों ने की यह मांग, सरकार को दी सख्त हिदायत

 

Pacl Money Refund Status 2022 : भारत में बढ़ती चिटफंड समस्याओं को लेकर सरकार के कदम निवेशकों के साथ नहीं चल रहा है। यह साफ़ तरीके से दिखाई दे रहा है, ऐसा ही कुछ पीएसीएल के केस में हो रहा है जहां पर 2014 से ही कंपनी लगातार निवेशकों को पागल बना रही है वहीं भुगतान भी नहीं दे रही है जिससे निवेशकों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है वहीं अब निवेशकों ने  पीएसीएल के निर्देशक एवं मैनेजरओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सरकार को हिदायत दी है वहीं सरकार को चेतावनी भी दी है कि जल्द से जल्द पीएसीएल केस में कार्रवाई की जाए जिससे निवेशकों को उनका संपूर्ण भुगतान मिल सके। 

लोग बोले मरने के बाद पैसा क्या काम का 

जब पीएसीएल के निवेशकों से ताजा स्थिति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि जिंदगी भर की जुडी हुई कमाई पीएसीएल में जमा की थी। बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए पीएसीएल में लगातार एफडी एवं आरडी के माध्यम से पैसा जमा कर रहे थे परंतु पैसा जमा है लेकिन मिल नहीं पा रहा है जिससे बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है वहीं क्या पैसा मरने के बाद मिलेगा वही घर पर मरने के बाद मिलता है तो उस पैसे का उपयोग किस तरह के से किया जाएगा जिस पैसे की जरूरत आज है वह कल मिले तो क्या संतुष्टि देगा। यह निवेशकों द्वारा बताया गया वही निवेश करने वाले लोग बेहद परेशान है वही सरकार से इस संबंध में लगाता कार्रवाई की मांग भी कर रहे हैं। 

  

मैनेजर एवं निर्देशकों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग 

पीएसीएल के निवेशक लगातार कर रहे हैं जहां पर पुलिस से भी वह लोग सीधे बात करते हुए कह रहे हैं कि पीएसीएल के निर्देशकों एवं मैनेजर के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई समेत अन्य कानूनी प्रक्रिया की जाए जिससे उन गरीब लोगों का भुगतान मिल सके वही उत्तराखंड समेत नई दिल्ली, राजस्थान समेत मध्य प्रदेश में पीएसीएल के निर्देशक एवं मैनेजरओं के खिलाफ थाने में कार्रवाई कराई जा रही है वहीं पुलिस द्वारा रिमांड पर लिए जाने एवं कार्रवाई करने की मांग निवेशकों द्वारा की गई है। 

बेटे को करना है एमबीए कहां से ब्यबस्था करू  

एक निवेशक ने हमारे संवाददाता को बताया कि उनका पूरा पैसा पीएसीएल की स्कीमों के माध्यम से जमा है वहीं उन्होंने अपने बेटे के अच्छे भविष्य के लिए पीएसीएल में पैसा जमा किया था वही बच्चा एमबीए करने की मांग कर रहा है लेकिन पिता बेरोजगार होने के कारण अपने बेटे को एमबीए नहीं करा पा रहा है।  पिता ने बताया कि बेटा एमबीए की मांग कर रहा है परंतु पूरा पैसा पीएसीएल की अन्य स्कीमों में जमा है जो कि अभी मिल नहीं पा रहा है जिसके कारण बच्चे की इच्छा को पूर्ण नहीं कर पा रहा हूं वही बेटे को अच्छी शिक्षा भी नहीं दे पा रहा हूं। 

<

p>सेबी ने बढ़ाई बांड जमा करने की तारीख 

सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया ने जिन लोगों को मैसेज किया था उन लोगों को अपने पीएसीएल की ओरिजिनल सर्टिफिकेट सेबी में जमा कराने थे वही सेबी के एड्रेस पर ओरिजिनल बोर्ड की कॉपी भेजी जानी थी वंचित रहे लोगो को रहत देते हुए सेबी ने अब आखिरी तारीख 31 जुलाई से अब बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया है। 


Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *