Breaking

रविवार 13 2022

mp news : पारंपरिक ऊर्जा के उत्पादकों और उपभोक्ताओं के लिए कुशलतर पर बोले एमपी राज्यपाल मंगू भाई पटेल

भोपाल : मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने कहा कि प्राकृतिक संस्थानों का पर्यावरण अनुकूल उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए। जिसके तहत अनिवार्यता है कि एवं आवश्यकता भी है कि पारंपरिक ऊर्जा के उत्पादन सहित उपभोक्ताओं के लिए कुशलता व स्वच्छ प्रतिक्रियाओं को प्रदेश में विकसित किया जाए। राजपाल पटेल द्वारा आज राजभवन भोपाल से सभी आभासी माध्यम के इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर द्वारा विद्युत अभियंता के 37 वें राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित किया गया है।  

यह बोले राज्यपाल मांगू भाई पटेल 

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने बोला कि पर्यावरण की चिंता केवल सरकार की नहीं बल्कि व्यक्ति की जिम्मेदारी है यह बेहद ज़रूरी है कि ऊर्जा सहित पर्यावरण-संरक्षण के प्रति बच्चे, युवा एवं बुजुर्ग सजग और सक्रिय हों। श्री पटेल ने कहा कि देश प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में वर्ष 2047 तक 5 ट्रिलियन की अर्थ-व्यवस्था के लक्ष्य की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है। 

भारत टॉप 5 अर्थ-व्यवस्थाओं की सूचि में शामिल 

भारत दुनिया के 5 शीर्ष अर्थ-व्यवस्थाओं की सूची में शामिल हो गया है। केंद्र सरकार चौथी औद्योगिक क्रांति के द्वारा राष्ट्रीय अर्थ-व्यवस्था को बढ़ावा सहित नागरिकों को सस्ती कीमत पर बिजली देने के लिये प्रयासरत है वही ऊर्जा आपूर्ति पर्यावरण सुरक्षित हो, इस दिशा में सरकार तेजी से कार्य कर रही है। 

मीडिया से बातचीत करे हुए राजपाल पटेल ने बताया कि 2030 तक गैर-जीवाश्म आधारित बिजली उत्पादन क्षमता को स्थापित करते हुए ऊर्जा उत्पादन के करीब 30 प्रतिशत तक ले जाने का लक्ष्य सरकार द्वारा तय किया गया है। इसके साथ ही अतिरिक्त वन और वृक्ष आच्छादन के माध्यम से एक अतिरिक्त संचयी कार्बन सिंक बनाने के कार्य भी तेज गति से चल रहे हैं। केंद्र और प्रदेश सरकारें ऊर्जा आपूर्ति में सौर और पवन ऊर्जा जैसे नवकरणीय संसाधनों पर विशेष बल दे रही हैं ।


कोई टिप्पणी नहीं:

Contact Us Form

नाम

ईमेल *

संदेश *

लोकप्रिय पोस्ट