Breaking

शुक्रवार 07 2022

रक्षा मंत्री के साथ बैठे मिले सुब्रता रॉय लाखो लोगो की ले चुके है जान, सहारा इंडिया लेटेस्ट न्यूज़ 2022 today

 

sahara india latest news 2022 today : मुलायम सिंह यादव(mulayam singh yadav) की तबीयत में कोई भी खास सुधार का असर नहीं है। जानकारी है कि मुलायम सिंह यादव की तबीयत लगातार खराब होती जा रही है वही सहारा इंडिया परिवार(sahara india news) के प्रमुख सुब्रत रॉय सहारा(subrata roy sahara) यादव परिवार के बड़े करीबी बताए जाते हैं वही सुब्रत रॉय सहारा यादव फैमिली के हर दुखों में साथ रहते हैं परंतु 2022 में रॉय कि ऐसी स्थिति को देखते हुए यह लग रहा है कि खुद को तो बचा नहीं पा रहे हैं वही दूसरों की सहायता करने के लिए तत्पर खड़े रहते है।  
यह भी पढ़े : सहारा इंडिया एजेंटो की तकलीफ सुनने में नाकाम हुआ सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इंडिया

गिरफ्तार करने पहुंची है दतिया पुलिस

खबर मध्य प्रदेश से हैं। जहां पर लखनऊ पुलिस के साथ मिलकर दतिया पुलिस सहारा प्रमुख को गिरफ्तार करने के लिए उनके घर रवाना हुई है वहीं शाम को खबर आई है कि पुलिस लखनऊ पहुंच चुकी है। इसके अलावा यह भी पता चला है कि आज मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा दतिया में ही मौजूद थे वहीं सूत्रों के हवाले से खबर है कि सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय की गिरफ्तारी के लिए गृहमंत्री मिश्रा ने आदेशित किया था। जिसके बाद में दतिया पुलिस मह्कामा हड़कंप में आया और रॉय को गिरफ्तार करने के लिए लखनऊ रवाना हुआ। 

लाखों लोगों के हत्यारे हैं सुब्रत रॉय

सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय का एक फोटो वायरल हो रहा जिसमें वह अखिलेश यादव समेत समाजवादी पार्टी के कई दिग्गज नेताओं और भाजपा के नेता राजनाथ सिंह के साथ बैठे हुए दिखाई दे रहे हैं वही देश के राजनीतिक करियर में यह सबसे बड़ा दृष्टिकोण है कि जिस आदमी के ऊपर देश में लाखों लाख f.i.r. समेत गिरफ्तारी वारंट जारी हो चुके हैं वही जो छुपा - छुपा घूम रहा हो उसके साथ पार्टी के दिग्गज नेताओं का बैठना उठना इस घटिया पॉलीटिकल पार्टी सहित इन राजनेताओं की असली कहानी को व्यक्त करता है। 

सहारा से कहीं मिला जुली है समाजवादी पार्टी और भाजपा 

सहारा इंडिया परिवार खुद की तकलीफों को संभालने में कहीं ना कहीं नाकाम दिखाई दिया है। जिसका यह सबूत है कि लोगों को उनका पैसा नहीं मिल पा रहा है।जिसके बाद लोग कोर्ट के दरवाजे को खटखटा रहे हैं वहीं सुप्रीम कोर्ट यह चीज देखने में क्यों नाकाम है कि सुब्रत रॉय सहारा दूसरों की मदद के लिए पहुंच जाते है परंतु जब बात खुद के परिवार की आती है तो सहारा इंडिया परिवार, लोगों को नजरअंदाज करता है और लोगों की धनराशि को इकट्ठा कर लौटने का झूठा वादा कर लोगों को सिर्फ और सिर्फ दिलासा दी जा रही है। वही देश में क्या चल रहा है इसको कौन बदलेगा पूछता है भारत। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Contact Us Form

नाम

ईमेल *

संदेश *

लोकप्रिय पोस्ट