Breaking

बुधवार 14 2022

प्रशासनिक अधिकारियों को सीएम शिवराज सिंह चौहान की चेतावनी, कहा प्रदेश में अब यह नहीं चलेगा

 

Shivraj Singh Chouhan

डेस्क रिपोर्ट, भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रशासनिक अधिकारियों का "सब अच्छा है - सब अच्छा सब अच्छा है"  वाला रवैया अब नहीं चलेगा। मूलभूत सुविधाओं और जन कल्याण योजनाओं में जन सामान्य की राह महत्वपूर्ण होगी। जानकारी के अनुसार जिले के प्रभारी मंत्री सहित स्थानीय मंत्री विधायक सहित जनप्रतिनिधि सभी जिले का संगल समीक्षा करेंगे वहीं मध्यप्रदेश में प्रभावी रूप से  कथित कर विकास और कल्याण के कार्यो की समीक्षा की जाएगी। 

समीक्षा के दौरान यह बात कही 
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज बालाघाट जिले की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। तभी उन्होंने इस बात को कहा कि श्री इकबाल सिंह बैंस संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव तथा मुख्य सचिव और बालाघाट जिले के अधिकारी आज की बैठक में वर्चुअली  शामिल हुए थे। मध्य प्रदेश पिछड़ा विभाग कल्याण आयोग के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर बिसेन बालाघाट से वर्चुअली तरीके से जुड़े थे। वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना हो या फिर जल जीवन मिशन या फिर और कोई। सभी योजनाओं की समीक्षा कर सीएम राइस स्कूल की प्रगति की जानकारी भी ली जाए। वहीं उन्होंने मंत्रियों को सूचना देते हुए 
कहा है कि जल्द से जल्द वह लोग समीक्षा करना शुरू करें। 

बिजली आपूर्ति की स्थिति की भी समीक्षा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बिजली आपूर्ति की स्थिति की भी समीक्षा की। बताया गया कि जिले में विस्तृत वन क्षेत्र और ट्रांसफार्मर में दूरी के कारण बिजली आपूर्ति में चुनौतियाँ आती हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस संबंध में जनता से संवाद विकसित कर सब स्टेशन बढ़ाने और नए ट्रांसफार्मर लगाने के कार्य को गति देने के निर्देश दिए।

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जनता की समस्याओं के सुविधाजनक समाधान के लिए विश्वास और उम्मीद के साथ लोक सेवा केन्द्र, शुरू किए गए हैं। इनका संवदेनशीलता के साथ संचालन सुनिश्चित किया जाए। समीक्षा में बालाघाट में रेलवे क्रासिंग से संबंधित समस्या के समाधान और ट्रेफिक समस्या के समाधान के लिए बायपास की आवश्यकता बताई गई।

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट