Breaking

मंगलवार 20 2022

Bhopal News : सीएम शिवराज बोले छात्रों के कौशल बिकास के लिए आईटीआई सर्वश्रेष्ठ

 

cm shivraj singh chouhan hd image
डेस्क रिपोर्ट, भोपाल : मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हाल फिलहाल में शिक्षा के तीन उद्देश्य दिए हैं। जानकारी के मुताबिक ज्ञान देना, कौशल देना तथा नागरिकता के संस्कार देना। इन पर मुख्यमंत्री शिवराज शिवराज सिंह चौहान ने बातचीत की है। वही बच्चों की कौशलता सहित नैतिकता पर भी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने एक बड़ी महत्ब्पूर्ण बात कही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बच्चों के भविष्य को निखारने के लिए आईटीआई को सर्वश्रेष्ठ बताया है। 

जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज कुशाभाऊ ठाकरे समारोह में तकनीकी शिक्षा सहित कौशल विकास और रोजगार के राज्यस्तरीय आईटीआई दीक्षांत समारोह के लिए संबोधन कर रहे थे तभी उन्होंने कॉलेज और यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन पूरा होने वाले दीक्षांत समारोह में आयोजन देखें वही उन्होंने कहा की  मध्य प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य है जहां आईटीआई के विद्यार्थियों को कोर्स पूरा होने पर दीक्षांत समारोह हो रहा है। 

आईटीआई पर बोले सीएम

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आईटीआई पर बोलते हुए कहा कि आज पूरी दुनिया में अभी सबसे ज्यादा किसी की मांग है तो वह कौशल की।  जो आपको आईटीआई के माध्यम से मिल सकता है। जिस प्रकार देश में कौशलता की आवश्यकता है उसी प्रकार उसको पूरा करने के लिए आईटीआई स्थापित की गई है। सीएम शिवराज ने भोपाल से कहा कि ग्लोबल स्किल पार्क, सिंगापुर का स्किल पार्क देखने के लिए प्राप्त प्रेरणा का परिणाम है। आज बच्चों के हाथ में अधिक कौशल है तो वह लोग बेरोजगार से पीड़ित नहीं रहेंगे। अथक कौशल विकास पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि बच्चे का अपने कौशल विकास पर लगातार ध्यान दें और उसको सुधारने में अतिरिक्त गुणवत्तापूर्ण शिक्षक के रूप में संचालित करते रहे। 

एमपी मे जल्द नए ट्रेंड की शुरुआत

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आईटीआई के बारे में बोलते हुए कहा कि प्रदेश की संस्थानों में एक नया ट्रेंड अब बनने जाने वाला है। संभाग स्तर पर सभी आईटीआई सुविधा युक्त भवनों में संचालित होने वाली है। जिसका प्रारंभ बहुत जल्द होने वाला है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और आधुनिक युग की आवश्यकता को पूरा करने के लिए एवं ट्रेंड को बढ़ाने के लिए लगातार सरकार प्रयासरत है। बच्चों को अधिक से अधिक काम मिले उसके लिए भी आवश्यक तकनीकी शिक्षा लाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है वही मुख्यमंत्री ने कहा कि बहुत जल्द कुछ ना कुछ बदलेगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

लोकप्रिय पोस्ट