क्या सहारा सेबी केस में मध्यस्थता कराएगी मोदी सरकार जाने लेटेस्ट अपडेट,Sahara India Latest News

 

डेस्क रिपोर्ट, भोपाल : आज सहारा सेबी केस के चक्कर में देश की एक तिहाई जनता परेशान है। सहारा इंडिया में कई लोगों ने अपना निवेश किया था वही उन लोगों को भुगतान भी समय पर मिल रहा था परंतु इस देश की सियासत ने ऐसा रंग जमाया कि सहारा - सेबी के दावे में पड़ गई। जहां पर सुप्रीम कोर्ट ने सहारा को सेबी में 24000 करोड रुपए जमा कराने का आदेश दे दिया। सहारा ने अपनी चालबाजी दिखाते हुए निवेशकों का भुगतान रोक दिया। आज निवेशक तिल - तिल कर मरने को पीड़ित है निवेशक आज यह नहीं जानता है कि उसका भुगतान कब मिलेगा परंतु वह आस लगाए बैठा है कि उसका भुगतान उसको जल्द से जल्द मिलेगा। 

सहारा इंडिया मामले को लेकर सहारा इंडिया के निवेशकों ने अभी दिल्ली में प्रदर्शन किया था जिसके बाद अब वीरेंद्र सिंह सोलंकी के नेतृत्व में मंदसौर में प्रदर्शन चल रहा था वही सहारा इंडिया के फ्रेंचाइजी गार्जियन का भी प्रदर्शन रांची में चल रहा है जो कि काफी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लगातार वायरल होने के बाद भी यह मुद्दा सरकार के कानों में नहीं गूंज रहा है वहीं कुछ वेबसाइट कुछ अनोखा दावा कर रही हैं वही क्या दावा कर रही हैं कि आज आपको बताते हैं। 

सहारा सेबी केस पर नया खुलासा 

अपने आपको कुछ न्यूज़ वेबसाइट बताने वाली फर्जी न्यूज़ मीडिया आज खबर दे रही है कि सहारा सेबी केस में सरकार मध्यस्थता कराने वाली है। टेक्निकल आर अजय नाम की एक वेबसाइट सहारा इंडिया पर काफी कंटेंट बनाती है परंतु वह जी भी कंटेंट बनाती है ज्यादातर फेक होता है। अब उस वेबसाइट ने बताया है कि सरकार मध्यस्थता कराने वाली है। मध्यस्थता से निवेशकों का भुगतान होगा वही जब यह न्यूज़ हमारी न्यूज़ दुनिया के पास पहुंची तो हमने सेबी सहित अन्य ऑफिशियल से बात की। जहां से हमको पता चला कि ऐसा कुछ भी नहीं है वही जो कंटेंट टेक्निकल आरा अजय की वेबसाइट से दिया गया था वह पूरी तरीके से फेक था वही निवेशक उस कंटेंट को रिपोर्ट करें ताकि देश का निवेशक फिर कोई नई उलझन में ना फंसे। "

काफी मोटा पैसा कमा रहा बिकाऊ मीडिया 

यह न्यूज़ मीडिया सिर्फ और सिर्फ सुब्रत रॉय सहारा सहित सहारा प्रबंधन को बचाने का काम करते हैं तभी तो एक ही न्यूज़ को 1 दिन में 5 बार अपलोड किया जाता है वही नए मुद्दे को लेकर खबर तो इनके पास पहुंचती है परंतु इनके बड़े बड़े मालिक सुब्रत रॉय के हाथों के नीचे काम करते हैं तभी तो आज सहारा इंडिया की बात टीवी चैनल्स पर नहीं की जा सकती है वही सुब्रत रॉय ने भी बड़ी तगड़ी प्लानिंग कर खुद का सहारा समय खोला था ताकि लोग अलग चैनल पर इनकी बात ना करें परंतु अब सहारा समय भी कहीं गड़बड़ दिखाई देने लगा है वही वह समय दूर नहीं जब सहारा समय भी बंद होने वाला होगा क्योंकि आज सहारा समय का समय ही बर्बाद है। 

Post a Comment

0 Comments

Contact Us Form

Name

Email *

Message *