Breaking

मंगलवार 30 2022

सहारा इंडिया मामले में कुछ यह बोले मुरैना से जिला मंत्री राजेंद्र शुक्ला, उच्च स्तरीय समिति गठन करेंगे

 


डेस्क रिपोर्ट, मुरैना : सहारा इंडिया परिवार में मध्य प्रदेश के लाखों निवेशकों के करोड़ों रुपए फंसे हुए हैं वहीं अगर बात मध्य प्रदेश के ग्वालियर चंबल संभाग की करें तो मुरैना, शिवपुरी, गुना, कैलारस, सहित ग्वालियर आंचल में जिले भर के निवेशकों के भारी-भरकम पैसा सहारा इंडिया में लगा हुआ है। जो अब मिलने का नाम नहीं ले रहा है वहीं निवेशक लगाता सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहा है और अपने भुगतान की मांग कर रहा है। जानकारी के मुताबिक सहारा इंडिया मामले में मुरैना के निवेशकों ने फिर एक बार प्रदर्शन किया है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिलने पहुंचे थे 
जानकारी के मुताबिक सहारा इंडिया के पीड़ित जमाकरता और एजेंट कैलारस, मुरैना, सबलगढ़ आदि जिलों से बस भरकर उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के दिल्ली बंगले पर पहुंचे थे। जहां पर उन लोगों ने अपनी पीड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया को सुनाई थी। जिसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के तरफ से कार्यवाही का आश्वासन मिला था वही सहारा समूह पर कार्रवाई करते हुए मुरैना में कुछ फंड भी पहुंचा था। जिसके कारण कुछ निवेशकों के भुगतान हुए थे परंतु आज भी लोगों का पैसा सहारा इंडिया में फंसा हुआ है और इस थोड़ी सी कार्रवाई से कुछ भी नहीं मिल रहा है।  

शिवपुरी में और बुरे हालत 
सहारा इंडिया परिवार से शिवपुरी जिले में और बुरे हालात है। जहां पर शिवपुरी जिले में तीन एफ आई आर दर्ज की जा चुकी है। जहां पर पहली f.i.r. नीरज कुमार शर्मा के नाम से दर्ज है वहु दूसरी एफआईआर संजय सिंह तोमर के नाम से दर्ज है परंतु शिवपुरी प्रशासन के खेमे के लोग लगातार कार्रवाई करने का हवाला तो देते हैं परंतु कार्यवाही नहीं करते हैं जिस कारण से निवेशकों का भुगतान नहीं मिल पा रहा है वही जल्द से जल्द शिवपुरी प्रशासन भी अपनी नींद से जागे और लोगों का भुगतान दिलाने में मददगार साबित हो। 

कब जागेगी प्रदेश सरकार 
प्रदेश सरकार के पास लगातार सहारा इंडिया से जुड़े विषय में कंप्लेंट पहुंच रही है। जहां पर लोग लगातार कंप्लेंट कर रहे हैं कि हमारा पैसा क्रेडिट सोसाइटीज में फंसा है जिसका लाइसेंस आपने सहारा को दिया था। सरकार जो लाइसेंस दे सकती है वह क्यों उस लाइसेंस को निरस्त कर लोगों का भुगतान नहीं कर सकती क्यों प्रदेश सरकार आज तक सो रही है। जानकारी के मुताबिक प्रदेश में 500 f.i.r. सहारा समूह पर दर्ज है परंतु प्रदेश सरकार की नींद है कि खुलने का नाम नहीं ले रही है। 

मुरैना में प्रदर्शन के बाद यह बोले मंत्री 
श्रीमंत महाराज साहब की कृपा से जिला मुरैना को डेढ़ करोड़ रुपए सहारा इंडिया से पीड़ित एजेंटों/निवेशकों को भुगतान हेतु प्राप्त हुआ है इसीलिए भुगतान में पारदर्शिता रखने हेतु हमारे अनुरोध पर,सबलगढ़, कैलारस, जोरा, मुरैना, अंबाह, पोरसा अर्थात कंप्लीट जिला मुरैना के सहारा इंडिया से पीड़ित एजेंटों/निवेशकों का भुगतान पारदर्शिता से हो, इसके लिए एक उच्च स्तरीय समिति गठन हेतु, श्रीमान एसपी महोदय मुरैना द्वारा एक प्रस्ताव जिला मुरैना के श्रीमान कलेक्टर महोदय की ओर भेजा। राजेंद्र शुक्ला, जिला मंत्री, बीजेपी मुरैना।

कोई टिप्पणी नहीं:

Contact Us Form

नाम

ईमेल *

संदेश *

लोकप्रिय पोस्ट