Breaking

सोमवार 15 2022

बच्चे हड़पना चाह रहे थे बाप की जिंदगी भर से जुडी हुई कमाई, न्यायलय ने सुना दिया यह फैसला /Shivpuri News

डेस्क रिपोर्ट, शिवपुरी : खबर शिवपुरी जिले से है जहां पर बुजुर्ग ने जिंदगी भर की संपत्ति को बचा कर रखा था। उसने सोचा था कि इस बचे हुए पैसे से वह अपनी जिंदगी का गुजारा करेगा परंतु बेटो ने उस पैसे पर कब्जा कर लिया। उस बूढ़े आदमी को खाने के लिए खाना तक नहीं दिया जाता था वही उस बूढ़े आदमी ने न्यायालय से न्याय की गुहार लगाई जिसके बाद अब न्यायलय ने अपना फैसला सुना दिया है। जानकारी के अनुसार शिवपुरी जिला न्यायालय परिसर में शुक्रवार को आयोजित हुई लोक अदालत में कुटुंब न्यायालय ने भरण पोषण के मामले में अहम फैसला सुनाते हुए उस बूढ़े आदमी के पुत्र को हर माह ₹1000 बतौर भरण-पोषण अपने पिता को देने का आदेश सुनाया है।  

यह भी पढ़े : अब सभी CSC सेंटर पर भी उपलब्ध रहेंगे उत्कर्ष क्लासेस के ऑनलाइन कोर्सेज

उस बूढ़े आदमी के बच्चों ने बुजुर्ग आदमी के प्रॉपर्टी सहित पैसों पर भी कब्जा कर लिया था। जो पूंजी उस बूढ़े आदमी ने जिंदगी भर से जुटा कर रखी थी उसको उसके बेटों ने हड़प लिया वही अपने पिता को खाने तक के लिए मजबूर किया जाता था। जानकारी के अनुसार परेशान युवक ने SDM के समक्ष शिकायत कर अपने लिए न्याय की गुहार की थी वहीं अब न्यायालय ने उस बूढ़े आदमी के लिए एक अच्छा फैसला सुना दिया है। 

जानकारी के अनुसार शिवपुरी निवासी घनश्याम सिंह यादव ने अपने पुत्र राजवीर यादव, बैजनाथ यादव, धनपाल यादव के खिलाफ भरण पोषण का मामला एसडीएम न्यायालय में लगाया था। अब एसडीएम न्यायालय ने अपना फैसला सुनाते हुए तीनों पुत्रों को अपने पिता को भरण-पोषण देने के लिए ₹1000 महीना देने का फैसला सुनाया है। 


कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट