Breaking

मंगलवार 30 2022

Eidgah Maidan Case : ईदगाह मामले में सुप्रीम कोर्ट से आया यह बड़ा आदेश, कल नहीं होगा गणेश उत्सव का आयोजन

 

डेस्क रिपोर्ट, बेंगलुरु : बेंगलुरु की ईदगाह मामले में आज सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने सुनवाई की सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के बीच में यथास्थिति बनाए रखने के लिए बातचीत की गई वही दोनों पक्षों को एक साथ यथास्थिति बनाने के आदेश सुप्रीम कोर्ट की बेंच की तरफ से दिए गए। जानकारी के मुताबिक मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई की। जहां पर जस्टिस की बेंच को एक फरमान भेजा गया। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि इस मामले को भारत के मुख्य न्यायाधीश के सामने रखा जाए तो बेहतर होगा। इसके बाद वकीलों ने भारत के चीफ जस्टिस यूयु ललिता को इस मामले में संज्ञान लेने के लिए फरमान भेजा है।  वही जस्टिस अशोक और जस्टिस चौधरी भी आज शामिल रहे वही तीन जजों की बेंच ने आज गठन किया है। 

जानकारी के मुताबिक कर्नाटक वक्फ बोर्ड ने कर्नाटक हाई कोर्ट के उस आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे डाली है जिसमें बेंगलुरु के चमराजपेट के ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थी समारोह की अनुमति दी गई थी। जानकारी के मुताबिक मुस्लिम निकाय के प्रतिनिधियों के वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा कि क्षेत्र में अनावश्यक धार्मिक तनाव पैदा किया जा रहा है। जहां पर पिछले हफ्ते कर्नाटक हाईकोर्ट ने बेंगलुरु के चामराजपेट के ईदगाह मैदान में गणेश चतुर्थ समारोह आयोजित करने की अनुमति दे दी थी। 

जानकारी यह है कि हाईकोर्ट ने सरकार से त्योहार को धरातल पर अनुमति देने का फैसला सुनाया था। राज्य सरकार की ओर से यथास्थिति बनाए रखने के लिए 25 अगस्त को अंतरिम आदेश को चुनौती देने की अपील की गई थी. हाईकोर्ट को अंतरिम आदेश के संशोधन किया गया था। वहीं हाईकोर्ट में अंतरिम आदेश में संशोधन करते हुए कोर्ट ने राज्य सरकार को 31 अगस्त तक सीमित अवधि के लिए धार्मिक गतिविधियों के लिए जमीन के इस्तेमाल करने की मांग वाले आवेदनों पर विचार करने के निर्देश दिए थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट