Sebi ने दी Sahara India को कड़ी फटकार, सहारा इंडिया लेटेस्ट न्यूज़ 2022 टुडे

 

Sahara India Latest News 2022 Today : निवेशकों से भारी भरकम रुपए जुटाने के बाद सहारा समूह फिर निवेशकों को सेबी के पीछे दौड़ाने की मंशा से चल रहा है।  जानकारी के अनुसार सहारा समूह ने अपनी वित्तीय धोखाधड़ी दर्शाते हुए निवेशकों को एक बार फिर सेबी के तरफ जाने के लिए आकर्षित किया है। जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि सहारा भुगतान इसलिए नहीं कर पा रहा क्योंकि सीबी ने उनका 25000 करोड रुपए ले रखा है वहीं सेबी खुद तो निवेशकों का भुगतान नहीं कर रही है। परंतु सहारा समूह कहां से भुगतान करें जब पैसा उसका सेबी के आड़े डला है। 

जानकारी के मुताबिक सहारा इंडिया ने एक और पत्र जारी करते हुए निवेशकों को सेबी जाने के लिए कहा है। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है पत्र में किस सहारा इंडिया का पूरा पैसा सेबी ने अपने हाथों ले रखा है। जिसके कारण सहारा समूह अब इतना गरीब हो चुका है कि वह भुगतान करने में भी सक्षम नहीं है परंतु सहारा समूह द्वारा लगातार बताया जा रहा है कि सहारा कोई ना कोई अंदरूनी साजिश के तहत कार्य कर रहा है वही निवेशकों को झूट की गोटी फेकते हुए बोलै जा रहा है की जल्द निवेशकों को एक राहत मिलेगी। 

जानकारी के अनुसार सहारा ने 14 जुलाई को पत्र जारी करते हुए बताया की 21.11.2013 को माननीय उच्चतम न्यायालय के द्वारा सहारा ग्रुप ऑफ कंपनीस पर एंबार्गो लगा दिया गया था, जिसके तहत संस्था अपनी कोई भी प्रॉपर्टी को बिक्री नहीं कर सकता था। सहारा ने अपने पत्र में यह भी बताया कि 03.08.2016 के आर्डर के माध्यम से यह सहारा को आदेशित कर दिया गया कि जो भी संपत्ति बेची जाएगी उसको अनुमति दी जाएगी वह इस तर्क पर समस्त विक्रय धनराशि जो भी सहारा को प्राप्त होगी वह सहारा सेबी खाते में जाएगी वहीं जिसका निवारण न्यायालय में प्रस्तुत करना होगा। 

जब सेबी से हमने पूछा की क्या सहारा का पैसा अपने ले रखा है : जब सेबी से सहारा समूह के बारे में पूछा गया तो उसने बताया कि हमने सहारा से पैसा सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद लिया है ना कि सहारा से लोन लिया है तो वह इस कदर से हम से पैसा मांग रहा है। वही सहारा समूह सेबी को तो बदनाम कर ही रहा है इसके साथ ही सरकारी एजेंसी जिन्होंने सहारा के विरुद्ध कार्रवाई की  उनको भी लगातार बदनाम किया जा रहा है। जो कि एक बहुत बड़ी चाल चली जा रही है जिसके तहत निवेशकों को तो फसा दिया है और अब सेबी को बदनाम कर रहे है। 

सुप्रीम कोर्ट के आर्डर के बिना नहीं होगा पैसा बापस : सेबी ने बताया कि कोई भी राजनेता या कोई भी पॉलीटिकल पार्टी सहारा समूह को उसका 25 हजार करोड़ दिलाने के लिए सक्षम नहीं है। दरअसल, सेबी ने यह साफ़ तरीके से बता दिया गया कि सहारा समूह को अगर 25000 करोड रुपए मिलेगा तो वह सिर्फ और सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद मिलेगा क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद ही हमने सहारा से 25000 करोड रुपए लिया था जो कि आज तक सहारा ने पूर्ण तरीके से पूरा पैसा दिया ही नहीं है वहीं अगर आप ₹10 देकर ₹20 मांगते हैं तो यह कहां की समझदारी है। 

आप क्यों नहीं करते भुगतान : जब हमारे संवाददाता ने सेबी में फोन किया और सेबी से यह पूछा कि आपके पास में 25000 करोड रुपए है तो आप क्यों निवेशकों का भुगतान नहीं करते तो सेबी ने हमको बताया कि सहारा समूह की दो कंपनियों पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा एंबार्गो लगाया हुआ था वही उन सम्मानित निवेशकों का भुगतान करने की जिम्मेदारी हम को सौंपी गई थी वहीं हमने कई समाचार पत्रों के माध्यम से निवेशकों को पैसा भी लौटाया परंतु निवेशक पैसा मांगने हमारे पास ही नहीं आ रहा था वहीं हमने जब यह पूछा कि आप बाकी के निवेशकों का भुगतान उस पैसे से क्यों नहीं कर देते तो सेबी की तरफ से बताया गया कि सुप्रीम कोर्ट ने हमको यह आर्डर नहीं किया है इसलिए हमे बाकी कम्पनीज और स्कीम का भुगतान नहीं कर सकते है। 
सहारा के मामले में फंसा एजेंट 
सहारा समूह के चक्कर में जो इस समय सबसे विपरीत स्थिति गुजर रहा  है वह है सहारा का एजेंट।  जहां पर उसने अपनी पार्टी सहित खुद का पैसा भी सहारा समूह की अलग-अलग स्कीमों के माध्यम से डिपाजिट किया था वहीं अब उसको भी उसका पैसा नहीं मिल पा रहा है वहीं निवेशकों की तरफ से भी लगातार वे दबाव झेल रहा है वही उसकी मानसिकता इस समय बड़ी ही गहरी है जहां पर सहारा भी उसकी मदद नहीं कर रही है।  सरकारी एजेंसी और सहारा सेबी केस के चक्कर में आज एजेंट का पीसना हो रहा है। 

Post a Comment

0 Comments

Contact Us Form

Name

Email *

Message *