Breaking

शुक्रवार 29 2022

सहारा इंडिया को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट से आज की ताजा खबर जाने कौन जीतेगा केस, Sahara India Latest News

 


न्यूज़ रिपोर्ट, दिल्ली : सहारा इंडिया के जुड़े मामले से न्यूज़ दुनिया लगातार बारीकी से अपना खबर प्रकाशन का काम करता हुआ दिखाई दिया है। लगातार हमने छोटी से लेकर एक बड़ी अपडेट तक कवर करने की कोशिश की है वही अगर हम किसी चीज को कवर करने में चूक गए हो तो उसके लिए हम तहे दिल से माफी मांगते हैं वही आज हम लोग दिल्ली हाईकोर्ट से एक और बड़ी खबर लेकर आए हैं। जहां पर सहारा इंडिया मामले में एक और रोचक जानकारी आपको देने के माध्यम से इस खबर को प्रस्तुत किया गया है।


क्या था पूरा मामला  

अच्छी बॉन्डिंग और अलग-अलग स्कीम्स के माध्यम से सहारा अपना बिजनेस गोरखपुर से लेकर आई थी। जहां पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सहारा ने अपना हेड ऑफिस खोला था वही निरंतर सहारा एक अच्छे बिजनेस का शुभारंभ कर रही थी वही सुब्रत राय सहारा मुलायम सिंह यादव से काफी अच्छी दोस्ती निभाते भी दिखाई दे रहे थे। यह देखकर मायावती जी को बिल्कुल भी अच्छा नहीं लग रहा था वही सुब्रत रॉय सहारा ने खुद की सहारा सिटी बनाने के लिए जब जमीन लीज पर ली थी तो यह मायावती को बिल्कुल भी पसंद नहीं आया था वही सरकार जैसे बपलटी वैसे ही मायावती ने सहारा के ऊपर सेबी बैठा दी। 

फिर क्या था लगातार केस चलते गए सुप्रीम कोर्ट में यह मामला पहुंच गया। जहां पर सुप्रीम कोर्ट ने सहारा को 24000 करोड रुपए जमा करने का आदेश सुना दिया वही सहारा ने अभी तक पूरा पैसा जमा नहीं किया है परंतु सेबी से पूरा 25000 करोड मांगा जा रहा है। जो कि एक बहुत झूठी साजिश है। सेबी से मिली जानकारी के अनुसार सहारा ने अभी तक कुल 13500 करोड रुपए सहारा सेबी खाते में जमा कराएं हैं। वही निवेशकों को भुगतान न देने की वजह से लगातार निवेशक सेंट्रल रजिस्टार में सोसाइटी से जुडी शिकायत कर रहा था।


सहारा निवेशक का कहना था कि सहारा कहती है कि हमारे पूरी सहारा पर एंबार्गो है परंतु एंबार्गो तो कब का हटाया जा चुका है वहीं सोसायटी एंबार्गो के आधीन नहीं आती है। जब भी इनका भुगतान सहारा क्यों नहीं कर रही है। इस मामले को लेकर सेंट्रल रजिस्टार भी दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचा था। दिल्ली हाई कोर्ट पहुंचने के बाद दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई करते हुए इस मामले में सहारा के नए इन्वेस्टमेंट लेने पर रोक कायम कर दी। 

निवेशकों के पक्ष में जा सकता है फैसला 
दिल्ली हाई कोर्ट और सहारा के जुड़े मामले में यह देखा जा रहा है कि लगातार उपरोक्त केस में नए पेटीशनर जुड़ते जा रहे हैं। कई नए पेटीशनर ने दिल्ली हाईकोर्ट में अर्जी दी थी कि उनको भी इस एप्लीकेशन में जोड़ा जाए वही इस केस में जोड़ने की प्रक्रिया पर दिल्ली हाई कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए सभी पेटीशनर को अप्रूवल दे दिया था वही सहारा के वकील ने 1 हफ्ते का समय मांगा था। फाइनल हियरिंग 3 तारीख को होनी है। जहां पर लग रहा है कि निवेशक की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट के जज अपना फैसला सुना सकते हैं। वही आने वाले समय में देखना है कि क्या कुछ निकल कर आता है वही सभी अपडेट्स आपको न्यूज़ दुनिया की वेबसाइट समेत दुनिया के चैनल पर भी उपलब्ध रहेंगी तो आज ही आप हमारे चैनल को भी subscibe कर ले। 

कोई टिप्पणी नहीं:

News Duniya Neeraj Sharma Live Coverages

लोकप्रिय पोस्ट