Breaking

बुधवार 13 2022

1 लाख की रिश्वत लेता हुआ पकड़ाई दिया शिवपुरी में नायब तहसीलदार, लोकायुक्त ने की कड़ी कार्रवाई

 


डेस्क रिपोर्ट शिवपुरी : खनियाधाना तहसीलदार सुधाकर तिवारी को लोकायुक्त की टीम ने एक लाख की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। जानकारी के मुताबिक सरपंच को जीत का प्रमाण पत्र देने के लिए नायब तहसीलदार ने करीब डेढ़ लाख रुपए की मांग की थी जिसके बाद ₹100000 नगद लेते हुए उसे लोकायुक्त की टीम ने पकड़ लिया। 

जानकारी के मुताबिक लोकायुक्त पुलिस ने न्यूज़ दुनिया के संवाददाताओं को बताया है कि ग्राम बरसोला तहसील खनियाधाना के रहने वाले उमाशंकर लोधी ने शिकायत की थी कि नायब तहसीलदार प्रभारी तहसीलदार खनियाधाना सुधाकर तिवारी ने उससे रिश्वत की मांग की है। आवेदक ने बताया था कि सरपंच के पद पर विजई हुआ है जिसका प्रमाण पत्र के लिए आरोपी आवेदक ₹700000 की मांग कर रहा है वहीं आरोपी द्वारा ₹100000 की रिश्वत देना तय किया गया है और लोकायुक्त की टीम पहले से ही मौके पर पहुंच चुकी थी। 

जिसके बाद आरोपी को रिश्वत राशि के साथ रंगे हाथों पकड़ा गया है वहीं कार्यवाही में लोकायुक्त टीम के प्रभारी योगेश कुमार राघवेंद्र सिंह तोमर इंस्पेक्टर, कविंद्र सिंह चौहान विवेचन, इंस्पेक्टर आराधना देवी, धनंजय पांडे, हेमंत शर्मा समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे। वहीं इस मामले में कांग्रेस ने भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए आरोप लगाया है कि सरकार नौकरों का गठजोड़ लोकतंत्र को खरीद रहे हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट