Breaking

मंगलवार 21 2022

Agniveer Yojna : ड्यूटी के दौरान भी पढ़ सकेंगे अग्निवीर , शिक्षा मंत्रालय अब स्नातक डिग्री प्रोग्राम शुरू करेगा

 

AGNEPATH SCHEME IN INDIA : अग्निवीर के तौर पर देश में अपनी सेवा दे रहे विद्यार्थी एवं युवा अपनी पढ़ाई भी नहीं छोड़ेंगे वही अपनी सेवा देते हुए वह अपनी पढ़ाई को भी कायम रख सकेंगे। इसके साथ ही नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग से वह अपनी पढ़ाई को जारी रख सकेंगे। इसके साथ ही सेना भर्ती की प्रक्रिया में एक बड़ा बदलाव किया गया है वहीं मोदी सरकार अग्निपथ योजना शुरू कर रही है जिसमें युवाओं को 4 साल के लिए अग्निवीर के तौर पर भर्ती किया जाएगा वहीं वह अपनी पढ़ाई भी कायम रखेगा।  शिक्षा मंत्रालय ने रक्षा मंत्रालय को एक सलाह के तौर पर इस योजना को तैयार करने के लिए कहा था वहीं इसके तहत नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (NIOS) से सेना के कर्मचारी पढ़ाई कर सकेंगे रक्षा मंत्रालय केंद्र सरकार की पहल का निरादर किया जा रहा है। 

शिक्षा मंत्री ने ट्वीट कर दी थी जानकारी 

जानकारी के मुताबिक शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए बताया था कि इस नई योजना के तहत दसवीं पास करने वाला युवक सेना में भर्ती ले सकेगा वहीं सेना में अपनी सेवा देते हुए वह अपनी पढ़ाई को भी कायम रख सकेगा । एनआईओएस(NIOS) के जरिए वह 12वीं का सर्टिफिकेट भी हासिल कर सकता है जो कि उसको आगे की शिक्षा में उच्च स्तरीय शिक्षा देने में बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगा इसके साथ ही नौकरी प्राप्त करने के लिए भी वह सहायक बनेगा। 

युवा बोले हमारे पक्ष में नहीं है 

जब युवाओं से इस नई नीति के बारे में पूछा गया तो ज्यादातर युवाओं ने गुस्से में कहा कि यह नीति हमारे खिलाफ है वही इस नीति से सेना भर्ती की प्रक्रिया बहुत ख़राब हो जाएगी। इसके साथ ही कई युवाओं ने यह भी बताया कि यह योजना उन विद्यार्थियों एवं युवाओं के खिलाफ है जो सेना में जाने की तैयारी कर रहे हैं वही मोदी सरकार उन युवाओं के खिलाफ काम कर रही है जो कि युवाओं को बिल्कुल भी रास नहीं आ रहा है। लोगों ने बताया कि सरकार को इस योजना को वापस लेना चाहिए जैसे देश में होने वाला प्रदर्शन रुक सके। 



कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट