Breaking

बुधवार 18 2022

obc आरक्षण कितना है : सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया अपने यह निर्देश ,जाने कितना रहा रिजर्वेशन दर

 


न्यूज़ रिपोर्ट ,नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने OBC आरक्षण के ऊपर अपना यह नया फैसला सुनाया है। जानकरी के अनुसार कोर्ट ने कहा है की इस  महीने नोटिफिएक्शन को पूरी तरह बहाली के साथ अगले हफ्ते तक चुनाब कराने के आदेश दिए है। कोर्ट से लगी जानकरी के मुताबिक कोर्ट की एकलपीठ ने कहा है की यह आरक्षण 50 फीसदी से ज्यादा का नहीं होगा।  

3 साल से अटके चुनाब करने के आदेश 

जानकरी के मुताबिक कोर्ट ने सरकार को 3 साल से अटके पड़े निकाय चुनाब को अब करने का आदेश दिया है वही इन निकाय चुनाब में किसी भी तरह का आरक्षण देने से मना किया गया है। जानकरी के मुताबिक भाजपा ने कोर्ट में याचिका दाखिल कर कोर्ट से इस मामले में एक अच्छा फैसला सुनाने की मांग भी की थी। 

>

17 मई को भी करी थी कोर्ट ने सुनवाई

जानकारी के मुताबिक "एप्लीकेशन फॉर मोडिफिकेशन" पर सुप्रीम कोर्ट ने 17 मई को भी सुनवाई की थी वहीं सरकार ने ओबीसी को आरक्षण देने के लिए 2011 की जनसंख्या के आंकड़े भी प्रस्तुत किए थे परंतु प्रदेश में ओबीसी की 51 परसेंट आबादी बताई गई थी सरकार का यह मानना था कि वह इसी आधार पर ओबीसी में आरक्षण मिलता है तो उसके साथ न्याय हो सके वहीं दूसरे पक्ष की ओर कहा गया था कि सरकार लापरवाही बरत रही है वही ओबीसी को उसका न्याय यानी की  आरक्षण मिलना चाहिए । 

कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए ओबीसी आरक्षण निकाय  रिपोर्ट का आकलन करने के बाद तय किया कि ओबीसी को आरक्षण दिया जाना चाहिए या नहीं दिया जाना चाहिए वही इस में करीबन 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण न दिए जाने की बात भी कही गई थी वहीं "आज कोर्ट में सुनवाई करते हुए आरक्षण पर मुहर लगा दी है"

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट