Breaking

मंगलवार 03 2022

MP News Today in Hindi : सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को दिया यह आदेश ,मध्य प्रदेश से जुडी रोचक खबरे

 

डेस्क रिपोर्ट ,भोपाल : सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश की सरकार को प्रदेश में बढ़ रही हिंसा को लेकर एक पत्र जारी किया है। जानकरी के मुताबिक मध्यप्रदेश में लगातार हिंसा बढ़ रही है जिसके कारण मध्यप्रदेश के किसान सहित अन्य लोगो को इन हिंसा से जोड़ दिया जाता जाता है जिसपर माननिये सर्बोच्च न्यायलय ने प्रदेश की शिवराज सरकार को आदेश पारित किया है। 

झूठे खबरे फ़ैलाने वालो के खिलाफ होगी कार्रबाई 

प्रदेश की न्यायलय ने अपने पत्र में प्रदेश सरकार से कहा है की प्रदेश में शांति बनाने के लिए कुछ पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाये जिसके माध्यम से बह लोग यह देख सके की प्रदेश में कौन हिंसा फैला रहा है वही जो लोग इस हिंसा का हिस्सा हो उनके खिलाफ कार्रबाई करने का बड़ा आदेश दिया है। जानकारी के मुताबिक इनमे कई न्यूज़ पोर्टल भी है जो की ऐसी घटनाओ में बड़ा बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते नजर आ रहे थे जिसके बाद सर्बोच्च न्यायलय ने अपने फैसले में इन न्यूज़ पोर्टल्स के खिलाफ कार्रबाई करने के कड़े निर्देश दिए है। 

सुप्रीम कोर्ट ने मप्र राज्य सरकार को सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा था और कहा था कि राज्य सरकार को जिला उपखंड और गांवों की पहचान करनी चाहिए जहां हाल के दिनों में भीड़ के संतुलन में लिंचिंग की घटनाएं हुई हैं, हम कह सकते हैं कि पिछले 5 वर्षों में । पहचान की प्रक्रिया को सर्वोच्च न्यायालय के फैसले की तारीख से 3 सप्ताह की अवधि के भीतर की जानी चाहिए

एक नोडल अफसर तैनात किया जाये 

सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार से कुछ नोडल अफसर बनाने के निर्देश देते हुए कहा है की यह नोडल अफसर समय समय पर पुलिस हेडक्वाटर पर अपनी सुचना भेजे जिससे मध्यप्रदेश में चल रही मोब लिंचिंग की घंटनायो पर पूर्ण बिराम लगाया जाये। 

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट