Breaking

मंगलवार 08 2022

Mp Hindi latest news update | होशंगाबाद का नाम अब नर्मदापुरम हो गया है ,जाने क्यों हुआ

होशंगाबाद आज नर्मदा जयंती के रूप में मनाई जाती है नर्मदापुरम: सेठानी घाट के प्राचीन अभयारण्य में मनाया गया जन्मदिन; शाम को नए नाम की रिपोर्ट करेंगे सीएम शिवराज (shivraj singh chauhan)


डेस्क  रिपोर्ट ,होशंगाबाद  :- 
नर्मदापुरम मां नर्मदा के जन्मोत्सव के लिए तैयार किया जाता है। मां रीवा के यादगार सेठानी घाट समेत शहर का हर एक किनारा रोशनी से जगमगा उठा है। नर्मदा के तटों को समय की महिला की तरह सजाया गया है, साथ ही शहर के मुख्य चौराहों और चौराहों को भी सजाया गया है। मंगलवार को नर्मदा जयंती का मुख्य कार्यक्रम होगा। प्राचीन नर्मदा अभयारण्य में मां नर्मदा के जन्मोत्सव की होगी प्रशंसा

यह भी पढ़े :- Sahara Group : सहारा के सभी निवेशकों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण बिंदु



शाम को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(shivraj singh chauhan) व उनकी अन्य साथी साधना सिंह जल मंच से मां नर्मदा जी का अभिषेक व प्रेम आरती करेंगे. इसके बाद नर्मदापुरम के नामकरण उत्सव की सराहना की जाएगी। इससे पहले सोमवार की शाम नर्मदापुरम के आयुक्त मल सिंह, डीआईजी जेएस राजपूत, कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, एसपी डॉ. गुरकरण सिंह समेत स्थानीय अधिकारियों ने सर्किट हाउस घाट से सेठानी घाट धारा पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया.

यह भी पढ़े :- Bhind Video : आदमी ने जिंदा कुत्ते को काट खा लिया उसका मास 

निवासियों ने उत्कृष्टता और अलंकरण देखने के लिए आया था

सेठानी, कोरी, पर्यटन घाट समेत सभी घाटों को रोशनी और रंगरोगन से डिजाइन किया गया है। सोमवार की शाम सेठानी घाटों की शोभा और श्रंगार को देखने के साथ ही नर्मदा मां के प्रति सैकड़ों लोगों ने प्रेम प्रकट किया। इस नजारे को लोगों ने अपने कैमरे में कैद कर लिया।

चार क्षेत्रों से लाइव प्रसारण

4 क्षेत्रों में विशाल एल ई डी के माध्यम से हेडलाइनर का सीधा प्रसारण किया जाएगा। जय स्तंभ चौक, इंदिरा चौक, पर्यटन घाट, सत्रास्ता में एलईडी लगाई गई हैं।

सभी कार्यस्थलों, स्कूलों में बदले जाएंगे नाम

नर्मदापुरम कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने कहा कि होशंगाबाद का नाम अब नर्मदापुरम हो गया है. ऐसे में मप्र राजस्व विभाग की ओर से भी नोटिस दिया गया है। गृह मंत्रालय, भारत सरकार से प्राप्त अनापत्ति प्रमाण पत्र की संगतता पर राज्य सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से होशंगाबाद क्षेत्र और शहर का नाम बदलकर 'नर्मदापुरम' कर दिया गया है। सभी कार्यस्थलों और स्कूलों में इसका क्रियान्वयन शुरू हो गया है।

दिन की शुरुआत में होगा जन्मोत्सव, शाम को होगी अतुलनीय आरती

नर्मदा जयंती समारोह के मुख्य दिन, सात फरवरी को, नर्मदा जी को मंत्रमुग्ध कर घाट पर पूजनीय और आशीर्वाद दिया गया था। बहरहाल, जब लता मंगेशकर के निधन के कारण लोगों में शोक की लहर थी, तब अलग-अलग परियोजनाएं नहीं हुईं। शाम 7 बजे प्रतिदिन महाआरती महासमिति ने मां नर्मदा की महा आरती की।

सीएमओ शैलेंद्र बडोनिया ने बताया कि उत्सव के दूसरे दिन मंगलवार सुबह 10.30 बजे पुरातन नर्मदा अभयारण्य में मां नर्मदा की जयंती मनाई जाएगी. दोपहर 3.30 बजे नर्मदा मंदिर, मोरछली चौक से सेठानी घाट तक परेड निकाली जाएगी। शाम छह बजे मुख्य अतिथि जलमंच से अभिषेक व महाआरती करेंगे। शाम आठ बजे से आयोजित सामाजिक कार्यक्रम में नर्मदा पर केंद्रित नृत्य नाट्यकरण और प्रतिबिंब गायन का समन्वय किया जाएगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट