Breaking

बुधवार 12 2022

Sahara : चिटफंड घोटाले के बाद भी लोग कर रहे सहारा इंडिया पे भरोसा

चिटफंड के नाम पे शुमार है कंपनी फिर भी लोग कर रहे अंधाधुन निवेश 

डेस्क रिपोर्ट ,बिज़नेस  :- फाइनेंसियल रूप से जूझ रही है सहारा इंडिया कंपनी। नहीं कर रही है निवेशकों का भुगतान फिर भी एजेंट करा रहे है अंधाधुन निवेश। लाखो ब करोडो रुपया फसा है देश के गरीब निवेशकों का सहारा इंडिया परिवार में उसके बाद भी दिसंबर महीने में सहारा इंडिया ने किया है 8 हजार करोड़ का नया निवेश। 


देश में चिटफंड का धब्बा लेकर चल रही सहारा इंडिया परिवार जो निवेशकों का भुगतान नहीं कर रही है और सेबी के चक्कर एजेंटो से कतबा रही है उसपे अभी भी निवेशकों और एजेंटो का भरोसा बना हुआ है तभी तोह लाखो और करोडो का निवेश सहारा इंडिया परिवार अब भी हो रहा है। 


सहारा इंडिया परिवार दिसंबर के महीने को सबसे ज्यादा नया ब्यबसाय करने के लिए जाना जाता है पर ऐसे में जब बापस मिलने का कोई भरोसा नहीं है तब भी लोग इस कंपनी में अपनी जमा पूंजी फसा रहे है। दिसंबर में सबसे अच्छा बिज़नेस करने वाला जोन बना हैदराबाद जहा दिसंबर तिमाही में 373 करोड़ का नया ब्यबसाय हुआ। बही दूसरे स्थान पे शुमार है जमशेदपुर रीजन जहा सहारा इंडिया परिवार के कार्यकर्ताओ ने देश के निवेशकों के करीब 100 करोड़ रुपए फसा दिए। अगर बात टाटानगर रीजन की करे तो वहाँ भी करीब 75 करोड़ का नया निवेश आया। 

इतना निवेश आने के बाद भी नहीं हो रहा निवेशकों का भुगतान 

सहारा इंडिया परिवार जो की अपने आप को देश का दूसरा सबसे ज्यादा नौकरिया देने वाला साम्राज्य बताता है वो इतना निवेश आने के बाद भी अपने निवेशकों का भुगतान क्यों नहीं कर पा रहा है इसके पीछे की सच्चाई सहारा इंडिया नहीं बताना चाहती है बस एम्बार्गो का हबाला दिया जाता है। एम्बार्गो की हकीकत भी सहारा निवेशक मोर्चा चैनल के डायरेक्टर श्री नीरज कुमार शर्मा ने आपके समक्ष रक् दी थी और बताया था की जो एम्बार्गो का हबाला दिया जा रहा है वो एम्बार्गो तोह कब का सहारा इंडिया के ऊपर से हठा दिया जा चूका है। 

पैसा आने दो एजेंट को मर जाने दो स्कीम चला रहा है सहारा इंडिया  

सहारा इंडिया कंपनी के कई एजेंट अभी तक आत्महत्या कर चुके हैं जिसके पीछे की मुख्य वजह है कि सहारा इंडिया परिवार भुगतान नहीं कर रही है। जिसके कारण एजेंट को एक बड़ी खतरनाक मानसिकता के साथ बाहर सड़क पर निकलना पड़ रहा है जिस में भी अगर कोई पार्टी उस एजेंट को मिल जाती है तो वह है उसको बीच सड़क पर ही नीलाम कर डालती है और जब वह लुटा पिटा एजेंट पुलिस के पास जाता है कार्रवाई के लिए तो पुलिस भी उसकी सुनती नहीं है। ऐसा तो हाल है अपने देश की कंपनियों का जो नया निवेश तो लेती हैं पर लौट आने की बात नहीं करती हैं सहारा इंडिया परिवार ने एक समय जो भरोसा निवेशकों और एजेंटों के साथ बनाया था वह आप लगभग चूर चूर हो गया है।  वहीं कई जगह यह भरोसा भी कायम दिख रहा है तभी तो एकता निवेश आया है सहारा इंडिया परिवार में सहारा इंडिया परिवार को जल्द से जल्द अपने निवेशकों का भुगतान कर अपनी नई शुरुआत करनी चाहिए।

निवेशकों का भुगतान कर फिर खड़ी हो सहारा इंडिया 

सहारा इंडिया परिवार अपने आप को देश की दूसरी ऐसी  संस्था मानती है जिसमें सबसे ज्यादा लोग काम करते हैं क्या यह सच्चाई है ,कि यह झूठ है यह तो किसी को नहीं पता है मगर सहारा इंडिया परिवार को जल्द से जल्द अपने निवेशकों का भुगतान कर एक नई शुरुआत करनी चाहिए क्योंकि देश के ऐसे कई परिवार हैं जो सहारा इंडिया परिवार के इस कारनामे से दुखी है और परेशान है अथवा कई सारे एजेंट ऐसे हैं जो सहारा इंडिया में कार्यरत तो हो गए थे परंतु उनको उनकी पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी काम के वजह से इन एजेंटों ने अपनी पढ़ाई छोड़ दी जिसकी वजह से आज यह कोई दूसरी नौकरी में भी नहीं जा सकते हैं तो सहारा इंडिया परिवार जल्द से जल्द निवेशकों का भुगतान करें और इन एजेंटों को फिर से कंपनी में काम करने का मौका मिले। 

उत्तर प्रदेश में छा रहा है पहले भुगतान फिर मतदान का नारा

जैसा की आप लोगों को अवगत होगा कि उत्तर प्रदेश में बहुत जल्द चुनाव होने वाले हैं और उत्तर प्रदेश के निवेशकों ने ठान लिया कि उत्तर प्रदेश में पहले भुगतान फिर मतदान के नारे को आगे बढ़ाना है क्योंकि जब तक भुगतान नहीं तब तक मतदान नहीं इंसान की भूख और प्यास दोनों पैसे से ही शुरू होती है और पैसे पर ही खत्म होती है वह जिंदगी भर मेहनत भी पैसे के लिए करता है और पैसा ही उसका जीवन है अगर पैसा नहीं होगा तो वह अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दे पाएगा और उसकी परिवार को भी कई तकलीफों का सामना करना पड़ेगा ऐसे में यह कुछ चिटफंड कंपनियां आती है जो पैसा तो ले जाती हैं पर वापस नहीं लौट आती हैं ऐसे कई सारे उदाहरण भारत में भी देखे गए हैं जैसे कि शारदा चिटफंड, साईं प्रसाद, सहारा इंडिया परिवार, PACL आदि। 






 








कोई टिप्पणी नहीं:

News Duniya Neeraj Sharma Live Coverages

लोकप्रिय पोस्ट