Breaking

शनिवार 15 2022

समोसे का ठेला लगाने को मजबूर सहारा इंडिया का कार्यकर्ता / Sahara India


डेस्क रिपोर्ट ,प्रतापगढ़ :- सहारा इंडिया परिवार के आतंक भूकंप से अब सभी निवेशक और एजेंटो की स्थिति लगभग ख़राब दिखाई देने लगी है। अपने खून ,पसीने  मेहनत का पैसा न मिलने से सहारा इंडिया के एजेंट को अब परिवार की परवरिश के लिए चाय का ठेला लगाना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक रामशंकर वर्मा पुत्र श्री स्वर्गीय राम अभिलाख वर्मा जो ग्राम मदाफर पुर के रहने वाले है उनको अपने परिवार के लालन पोषण के लिए अब चाय बेचनी पड़  रही है। 



एक समय कमाते थे 25,000  हर महीने

देश की सबसे बड़ी घोटाला कंपनी सहारा इंडिया में कार्यकर्ता रहे श्री रामशंकर एक समय 25,000 रुपया महीने थे। सहारा इंडिया और उसके सेबी वाले बिबाद के बाद पता नहीं कितने कार्यकर्ता बेरोजगार हो चुके है। सहारा इंडिया परिवार के प्रमुख कब इन निवेशकों का भुगतान करेंगे और कब यह निवेशक चैन की साँस लेंगे। 


 यह भी पढ़े :- 

 सहारा इंडिया  भुगतान का मुद्दा पुरे देश में देश ब्यापी मुद्दा बन गया है। मध्य प्रदेश में सहारा इंडिया के खिलाफ एक सैकड़ा के करीब एफआईआर दर्ज हो चुकी है।सहारा इंडिया के  भुगतान की  माँग के लिए अकेले शिवपुरी में २ बही पिछोर तहसील में 1 एफआईआर दर्ज हो चुकी है अकेले ग्वालियर अंचल पुरे मध्य प्रदेश में ऐसा क्षेत्र बनकर उमरा है। 

जहां सर्वाधिक एफ आई आर सहारा इंडिया के एजेंटों और निवेशकों ने की है मध्य प्रदेश के विधानसभा में अभी तारीख एक प्रश्न के उत्तर में मध्यप्रदेश के गृहमंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा ने मध्यप्रदेश विधानसभा में जवाब दे दिया है की 64 f.i.r. डायरेक्ट तथा 84 f.i.r. अधिक पढ़े 

यह भी पढ़े :- 

कोरोना को लेकर शिवपुरी में भी कड़े कानून लागु है पर लोग इन्हे मैंने के लिए राजी ही नहीं है। कोरोना की स्थिति को देखने के बाद भी शिवपुरी शहर के मातोश्री पैलेस में एक बड़े स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन होने वाला अधिक पढ़े 

कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट