Breaking

शुक्रवार 10 2021

Shivpuri News see video : महिला को इतना मारा की हो गयी उसकी मौत



News Credit :- Priyanshu sharma

 शिवपुरी। खबर जिले के भौती थाना क्षेत्र के भौंती कस्बे से आ रही है। जहां एक ही परिवार के लोगों में चबूतरे के विवाद के चलते महिला की कुल्हाडी से काटकर हत्या कर दी। इसमें मां की मौत हो गई, जबकि बेटा गंभीर रूप से घायल हो गया। शख्स के सिर पर इस कदर खून सवार था कि उससे बचने के लिए बच्चों को लेकर भाग रही महिला पर दौड़ते हुए कुल्हाड़ी से वार किया। भागते-भागते महिला गिर गई।


मां को बचाने के लिए बेटा दौड़ा, लेकिन वह सिर्फ यही चिल्लाती रही कि भाग जा नहीं तो यह मार डालेगे। बेटे के सामने ही चाचा ने उसकी मां की हत्या कर दी। इसके बाद यह शख्स भतीजे पर भी कुल्हाड़ी लेकर दौड़ा, उस पर वार किए। जैसे-तैसे वह भाग कर अस्पताल पहुंचा। उसके पीठ पर भी कुल्हाड़ी के गंभीर वार वार किए गए थे। डॉक्टर ने बताया कि बच्चे की रीढ़ की हड्डी पर गहरे घाव हैं। उसकी हालत नाजुक है।


क्या है पूरा मामला

जिले के भौंती कस्बे में रहने वाले आरोपी राजू भार्गव अपनी विधवा भाभी मंजूलता भार्गव के मकान के पास बैठने के लिए पत्थर की पट्टी बनवा रहा था। इस पर मंजूलता के बड़े बेटे विनय ने राजू से कहा वह यहां पट्टी बनाने की बजाय थोड़ा दूर बना लें, नहीं तो आए दिन कहासुनी व झगड़े होंगे। इसी बात पर राजू झगड़ा करने लगा और इसी बीच राजू का बेटा राधाशरण भार्गव भी वहां आ गया। झगड़े में शामिल हो गया। कुछ देर में कहा-सुनी से शुरू हुआ। झगड़ा इतना बढ़ गया कि आरोपी राजू और उसका बेटा राधाशरण कुल्हाड़ी और फरसे निकाल लाए और विनय पर हमला कर दिया।



विनय ने तो जैसे-तैसे भाग कर जान अपनी बचाई। लेकिन तभी झगड़ा सुनकर घर के बाहर आई मंजुलता और उसके छोटे-बेटे गिर्राज पर दोनों आरोपी बाप-बेटे टूट पड़े और कुल्हाड़ी और बका से उन पर हमला कर दिया। हमले से बचने के लिए दोनों मां-बेटे भागने लगे। लेकिन घायल मंजूलता को भागते-भागते ठोकर लग गई और वह गिर गई। तभी आरोपी ने उस पर हमला कर दिया। मां ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। जबकि, बेटा गिर्राज गंभीर रूप से घायल है। उसे जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है। गिर्राज की रीढ़ की हड्डी और सिर के पिछले हिस्से में गहरी चोट है।


जिस समय कहासुनी हो रही रही थी, उस वक्त मृतिका अपने बच्चों के लिए खाना पका रही थी। चिल्लाने की आवाज सुनकर वो बाहर आई और ये हादसा हो गया। मृतिका के हाथों पर आटा लगा हुआ था। आरोपी बाप-बेटा उस समय इतने खूंखार हो गए थे कि मोहल्ले के लोगों के समझाने पर भी वे नहीं माने। मौके पर मौजूद लोगों की माने तो मृतिका जब हमले में घायल होकर अपनी अंतिम सांसें ले रही थी, तब भी वह यही गुहार लगाती रही थी कि कोई तो मेरे बच्चों को बचा लो, नहीं तो ये उन्हें नहीं छोड़ेंगे। यह लाईव मर्डर भौती के मार्केट में स्थिति एक दुकान के सीसीटीव्ही में कैद हो गया है।



कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट