Breaking

सोमवार 27 2021

Madhya Pradesh Panchayat Chunav 2021 को लेकर अभी नहीं हो पाया फैसला ,स्थगित

 राय लेने के बाद कुछ फैसला कर सकता है राज्य निर्वाचन आयोग

दिन भर चली बैठक देर शाम तक प्राप्त नहीं हो पाई विदित अभिमत

भोपाल ,डेस्क रिपोर्ट :- शिवराज सरकार द्वारा मध्य प्रदेश पंचायत राज चुनाव का संशोधन अध्यादेश वापस लेने के बाद उम्मीद जताई जा रही थी कि सोमवार को पंचायत चुनाव स्थगित हो जाएंगे प्रदेश से आम तक कोई भी निर्णय नहीं हो सका राज्य निर्वाचन आयोग अध्यक्ष वापसी के बाद स्थिति को लेकर परीक्षण कर रहा है उधर राज निर्वाचन आयोग बसंत प्रताप सिंह ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास के साथ आयोग के अधिकारियों के साथ एक बहुत महत्वपूर्ण पहलुओं पर विचार करने हेतु बैठक की है इसके बाद में सभी विधि एवं विशेषज्ञों से अभिमत लेने का निर्णय लिया जाएगा देर शाम तक आयोग के फैसले का इंतजार किया जा रहा था। 

दिन भर से चल रहा था अलग-अलग बैठकों का दौर

राज निर्वाचन आयोग में दिनभर बैठो का तो दौर चलता रहा राज निर्वाचन आयोग ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख उमाकांत उमराव संचालक पंचायत राज आलोक कुमार सिंह और आयोग के सभी अधिकारियों के साथ लगभग डेढ़ घंटे की बैठक की इसमें विभागीय अधिकारियों ने अध्यादेश वापस लिए जाने की जानकारी दी और सुप्रीम कोर्ट में ओबीसी आरक्षण के पूर्व में चार याचिका पर 3 जनवरी को सुनवाई होगी उसके अनुरूप आगामी कार्यवाही की जाएगी। 

चुनाव को लेकर अलग-अलग प्रतिक्रिया

मध्य प्रदेश पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज संशोधन अध्यादेश वापस लेने के बाद अधिसूचना जारी होने के बाद भी यह संदेश दिया गया था कि सोमवार को चुनाव की मौजूदा प्रक्रिया स्थगित या निरस्त कर दी जाएगी लेकिन राज्य सरकार के प्रवक्ता डॉ नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार को मीडिया से चर्चा में यह कह दिया कि शाम तक चुनाव स्थगित करने को लेकर निर्णय हो जाएगा लेकिन राज निर्वाचन आयोग द्वारा कोई भी पैसा नहीं दिया गया जिससे वह लेट पर लेट होती गई। 

दरअसल नामांकन वापसी के बाद अभ्यर्थी प्रचार में जुट गए थे बैनर पोस्टर सभी जगह लग चुके थे आधा पंपलेट भी बढ़ चुकी थी पर चुनाव को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई थी उधर जिलों में अभी मतदान को लेकर आए हो की भी तैयारी लगभग पूरी हो चुकी थी पर मत पात्र और इलेक्ट्रिक वोटिंग मशीन की तैयारियां होने वाली थी मतदान कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका था

मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित चुनाव कार्यक्रमों के अनुसार पहले चरण के लिए 6 जनवरी को वोटिंग होने वाली थी दूसरे चरण को का मतदान 28 जनवरी को होने वाला था मतदान  की गणना पर भी राज निर्वाचन आयोग ने रोक लगा दी है


कोई टिप्पणी नहीं:

सहारा इंडिया की घोटाले पर एडवोकेट अजय टंडन के साथ LIVE | sahara india news |

लोकप्रिय पोस्ट